प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना | Pradhan Mantri Gramin Aawas Yojana Hindi | Apply Online Form

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दवारा 20 नवेंबर 2016 को शुरू की गयी थी | यह योजना गाँव में रहने वाले लोगों के लिए है जिनको इस योजना के तहत सरकार द्वारा पक्के मकानों को बनवाने के लिए मदद दी जाएगी | आपको बता दें कि योजना का पहले जो नाम था वह इंदिरा आवास योजना था, जिसे अब बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना कर दिया गया है |

प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना का उद्देश्य

इस योजना के उद्देश्य वित्तीय सहायता प्रदान कर अगले 3 वर्षों में ग्रामीण क्षेत्रों में 1 करोड़ पक्के घरों का निर्माण करना है |जैसे कि आपको पता है ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले अधिकांश लोगों के घर कच्चे होते हैं | गाँव के अधिकतर लोगों का आय का साधन खेती होता है, जिस से उनका केवल घर का खर्च ही निकलता है | पैसों की कमी के कारण ऐसे लोग घर की मुरम्मत का खर्च उठाने में असमर्थ होते हैं, जिसके कारण उनके घरों की हालत और जर्जर होती जाती है नतीजा घरों का गिरना और लोगों की मौत | ऐसे हादसों का शिकार कई लोग हो चुके हैं | प्रधानमंत्री नें ऐसे हादसों से लोगों को बचाने और लोगों की स्थिति में सुधार लाने के लिए ग्रामीण आवास योजना को शुरू किया है | 

प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना की कुछ अहम् बातें

  1. सरकार द्वारा बनाए जाने वाले घरों की संख्या अब 3 करोड़ से बढ़ाकर 4 करोड़ कर दी गयी है |
  2. इस योजना के तहत सरकार 2018-2019 तक आर्थिक मदद के रूप में 1,30,075 करोड़ रुपय प्रदान करेगी |
  3. सरकार इस योजना के अंतर्गत सभी लाभ पाने वाले लोगों को घर बनाने के लिए वित्तीय सहायता देगी, जो कि इस प्रकार रहेगी 1.30 लाख पहाड़ी इलाक़े में रहने वाले लोगों को और 1.20 लाख मैदानी इलाक़े में रहने वाले लोगों को |
  4. सरकार घर निर्माण के साथ साथ लाभ पाने वाले लोगों को शौचालय निर्माण के लिए 12 हज़ार रुपय देगी |
  5. सरकार शौचालय निर्माण के साथ साथ मुफ़्त पानी का कनेक्षन प्रदान करेगी |
  6. सरकार नें एक नया फ़ैसला लिया है जिसके अंतर्गत इस योजना के तहत लाभ पाने वाले लोग 2 लाख तक का लोन ले सकते हैं | पहले यह लोन राशि 70,000 रुपय थी जिसे अब बड़ाकर 2 लाख कर दिया गया है |
  7. सरकार द्वारा वित्तीय सहायता की रकम लाभार्थी के बैंक या डाक घर के बचत खाते में ट्रान्स्फर कर दी जाएगी |
  8. इस योजना के लिए लाभार्थी जो चुने जाएँगे वह आर्थिक जाती जनगणना 2011 के डेटा के आधार पर चुने जाएँगे |

इस योजना के लाभ पाने की प्राथ्मिक्ता सबसे पहले उन लोगों को दी जाएगी जिनके पास अपने मकान नही हैं या फिर जो कच्चे मकानों में रहते हैं |

READ ALSO

SAUBHAGYA YOJANA

प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत लोगों का चयन

इस योजना के लिए लाभार्थी जो चुने जाएँगे वह आर्थिक जाती जनगणना 2011 के डेटा के आधार पर चुने जाएँगे | इस योजना में चुने जाने वेल लोगों का चयन ग्राम सभा द्वारा किया जाएगा | आपको बता दें प्रधानमंत्री आवास योजना  दिल्ली और चंडीगढ़ के अलावा बाकी सभी ग्रामीण क्षेत्रों में शुरू की जाएगी |

36 thoughts on “प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना | Pradhan Mantri Gramin Aawas Yojana Hindi | Apply Online Form

  1. Gaw ka nagrik

    Sir humare gaw me raste nhi h bahut logo ke pass aor gaw ke pradhan gaw me kuch kaam nhi karwa rhe h aor sir gaw me koi sadak ka nirman 4 year me nhi hua h sarkari school ke principle jo saman baccho hota h apne rakh lete h aor jo rashan school ka hota h use apne ghar le jati h

    Reply
  2. Jagdeesh singh

    Name.jagdish Singh s/o Ran perkash
    Address.naglah sahtu posts indrokhi etawah UP 206120

    Reply
  3. Virendra prasad

    aadarniya mukhya mantri ji AAP se anuródh hai ki garib Janta ke Liye jo awas ka chunaw Kiya jata hai uske liye koi Manak Taya hota hai ya nahi kuchh log Kanmani dhhang se ya apne chahete Longo ka chayan karte hai kya chayañ ki jankari online check Kiya ja sakta hai kisi website se to kripya bataye

    Reply
  4. श्रवण कुमार

    ग्राम पंचायत माधव पुर डिघौटा पोस्ट मरहरा ज़िला अम्बेडकर नगर पिन कोड224139उत्तर प्रदेश में है

    Reply
  5. ramesh chand

    Mera papa ka makhan pass ho gaya t or ban nhi Kay Baar DM s bi kah or kiy Santa nhi Ramesh Chand village kindal tahseel nakur diss saharanpur

    Reply
  6. NIJAMUDDIN

    SIR HAMARA GRAM PIPRIYA SANTOSH BAHUT HI GARIB HAI AUR HAMARE GRAM ME KOI BHI SADAK NALON KA NIRMAD HUA HAI AUR NA HI AAWAS MILE HAI SIR AAPSE HAMRE GRAM VASION KI AASHA HAI KI AAP HI HAMARE GRAM KI TARAF DHIYAN DE AAPKI MAHAN KRPA HOGI

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *