यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 | आवेदन प्रक्रिया

साल 2020 और 2021 ह्मारे भारत देश के लिए बहुत हे बुरा रहा है | हमारे भारत देश में covid के चलते बहुत से लोग अपनी जान गवाँ चुके हैं | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी नें अपने राज्य के बच्चों के लिए जो अपने माता पिता दोनो को covid बीमारी के कारण खो चुके हैं उनके लिए यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को शुरू करने के फ़ैसला लिया है | इस योजना के बारे में आज हम विस्तारपूर्वक आपसे चर्चा करेंगे, इसीलिए आप इस लेख अंत तक ज़रूर पड़ें |

क्या है यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

आपको बता दें यह योजना उत्तर प्रदेश में रह रहे बच्चों के लिए है जो अपने माता पिता या माता या पिता में से किसी एक को COVID बीमारी से खो चुके हैं |

ऐसे बच्चों की देख रेख का जिम्मा अब उत्तर प्रदेश की सरकार के तहत रखा जाएगा | जो बच्चे अनाथ हो चुके हैं उनकी देख रेख, उनकी पड़ाई, उनकी शिक्षा बीमार होने पर चिकित्सक मदद करने करने का सारा जिमा सरकार द्वारा किया जाएगा | इन सारी सहूलियातों के अलावा सरकार द्वारा ऐसे बचों को आर्थिक सहायता भी देगी |

यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

यूपी बाल सेवा योजना को शुरू करने का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश में गुंडागर्दी और ग़रीबी बहुत जयदा है | अन्नथ हुआ बच्चे कहीं ग़लत लोगों के हाथ ना लग जाएँ और उनसे कोई ग़लत काम ना करवाया जाए इसीलिए योगी सरकार जल्द से ऐसे परिवारों का दाता जमा करने का ऑर्डर दिया है, जिसके बाद ऐसे बच्चों की देख रेख सरकार द्वारा की जाएगी |

अनाथ हुए बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए उन्हे अच्छी शिखा अच्छा रेहन सहन देने के लिए इस स्टेप को लिया गया है | यदि किसी छात्रा की माता पिता की मृत्यु हो चुकी है तो आर्थिक सहयता देने के साथ साथ छात्रा की शादी के खर्च का व्हन भी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किया जाएगा | इसके अलावा पड़ाई के लिए लैपटॉप या टॅबलेट भी दिया जाएगा |

यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए पात्रता

आवेदक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए |

परिवार की वार्षिक आय 2 लाख से जयदा नही होनी चाहिए |

आवेदक का आयु प्रमाण पत्र होना चाहिए |

इस योजना में 0 से 18 साल तक के बच्चे शामिल किए जाएँगे |

याद रहे वही बच्चे शामिल किए जाएँगे जिनके माता पिता की मृत्यु covid काल में हुई हो या माता पिता में किसी एक की मृत्य 1 मार्च 2020 से पहले हुई हो |

याद रहे वही बच्चे शामिल किए जाएँगे जिनके माता पिता की मृत्यु covid काल में हुई हो या माता पिता में किसी एक की मृत्य 1 मार्च 2020 से पहले हुई हो या दोनो की मौत 1 मार्च से पहले हो गयी हो |

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana Notification

ज़रूरी दस्तावेज़ जो आवेदन फार्म के साथ लगाने होंगें

  1. बच्चे का आयु प्रमाण पत्र |
  2. शिक्षा संस्थान में पंजीकरण का प्रमाण पत्र |
  3. बोनफ़ाइड सर्टिफिकेट |
  4. वार्षिक आय का प्रमाण पत्र |
  5. माता पिता की मृत्यु का सर्टिफिकेट होना चाहिए |
  6. गार्डियन और बच्चे का संयुक्त फोटो  |

यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की आवेदन प्रक्रिया

आपको बता दें आवेदन की प्रक्रिया 15  दिन के भीतर  करवाई जाएगी |

आपको अपना आवेदन फार्म जिला बाल सरकषण इकाई या बाल कल्याण स्मिति द्वारा मुहैया करवाया जाएगा |

आवेदन फार्म ऑफलाइन तरीके से भरा जाएगा |

यदि आप ग्रामीण क्षेत्र से है तो आपको अपना आवेदंन फार्म पंचायत में या फिरल जिला प्रोबेशन अधिकारी के दफ़्तर में जमा करवाना होगा |

आवेदन फार्म की जांज करने के बाद आपको मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ मिलने शुरू हो जाएगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *